Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Love Story Hindi Shayari : Love Status Shayari Hindi

  

Love Story Hindi Shayari : Love shayari for WhatsApp status





Love Shayari in 2 Lines


ख्याल तुझ गैर का , सोच कर गर्मी ए हसरतों में जलने लगी हूँ मैं 

खुली आँखों में ख्याब तेरा देख कर , खुद ही खुद में पिघलने लगी हूँ मैं |



तुम्हे हम पा न सके , मुद्दतो चाहने के बाद

किसी ने तुम्हे अपना बना लिया . चंद रश्मि निभाने के बाद ||



खो गए हो तुम भी कही , आसमानो में बदलो के बीच 

अगर होते ईद का चाँद तो नजर आजाते हजारो सितारों के बीच ||


जिंदगी है चार दिन की , कुछ भी न गिला कीजिये 

दवा , जाम , इश्क या जहर , जो भी मिले मजा लीजिये ||


न हो दूरियां रिस्तो में 

करीबी का ख्वाव रखते है 

भले ही हो कांटे कितने भी 

हाथ में गुलाब रखते है ||


गुलाब से पूछो दर्द क्या होता है 

देता है पैगाम मुहब्बत का 

और खुद काँटों में रहता है ||


जो अब मेले हो खपा होंगे कैसे 

लम्हा लम्हा संभालेंगे खुद को कैसे 

दिल मानता नहीं 

दूर होकर जियेंगे कैसे ||


मेरी जिंदगी के किस्से यू ही नहीं है पूरे 

हम उनको ही मिले , जिनके बिन हम अधूरे है ||


मेरी कदर तुझे उस दिन समझ आएगी 

जिस दिन तेरे पास दिल तो होगा मगर

दिल से चाहने वाला कोई नहीं होगा ||


तुम मेरे हो ऐसी जिद्द हम नहीं करते 

मगर हम तुम्हारे रहेंगे 

ये तो हम हक़ से कहते है ||


जो मेरे साथ है मुद्दत से 

वही हमारे हयाते सफर है 

जिसे मेरे पैरो के छालों 

थकान और दर्द की खबर है 

वो ही मेरी हमसफर है ||


काश कैद करले वो पगली मुझे अपनी डायरी में 

जिसका नाम रहता है सदा मेरी जुबानो में ||


जिसकी तलाश है उसको पता ही नहीं 

हमारी चाहत को उसने समझा ही नहीं 

हम पूछते रहे की क्या तुम्हे प्यार है 

वो कहते रहे उन्हें पता नहीं ||


कुछ बोलने और तोड़ने में 

केबल एक पल लगता है 

जबकि बनाने और मानाने में पूरा जीवन समाप्त हो जाता है 

प्रेम सदा माफ़ी मग्न पसंद करता है 

और अहंकार सदा माफ़ी सुनना पसंद करता है ||


जब बारिश की बूंदो के संग गिरु 

तुम थाम लेना अपनी इन हथेलियों में 

जब ओस की बूंदो संग फ़िसलु

तुम थाम लेना अपनी हथेलियों में ||


मैं तेरी मुहब्बत में हूँ 

पर तेरी मुहब्बत के लायक नहीं हूँ 

दिल धड़कता है तेरे नाम से 




सब कुछ बिखरा बिखरा है 

कभी जज्बात बिखर जाते है 

कभी ख्वाव बिखर जाते है 

कभी ख्वाहिश बिखर जाती है 

जब सब कुछ समेटते तो 

अपने बिखर जाते है ||


सच इश्क़ रंगीन है 

प्राचीन से रंगीन है 

बैरी जमाना समझे 

प्यार जुर्म संगीन है ||


कभी हमारी महफ़िल में ही भीड़ हुआ करती थी

अब तो हम है और हमारी तन्हाई 

काश फिर बेबजह मिलने के दिन बापस आ जाते 

फिर से एक नए बजह से मिलने की तलाश में ||


अधूरे हो कर भी जो पूरे है 

किस्से नहीं कहानी नहीं 

खुशियों के जखीरे है हम ||


बातो ने जीता दिल मेरा 

बनाये रखा यकीं मेरा 

कौन पहिचानता है इतना

समझा है तुमने जितना ||


नहीं आता मुझे किसी का दिल तोडना 

मेरी तो चाहत है सबको जोड़ना 

रिस्तो कि अहमियत समझता हूँ 

इसलिए तो हर रिश्ते को निभाता हूँ ||


हम कभी गर्दन का माप नहीं देते उसे 

मगर फांसी के फंदे को सब पता चलता है 

एक पकड़ कर एक छोड़ता है 

मतलबी है इंसान सांसो को भी पता चलता है ||


प्यार करना एक कला है 

और मत करना ये मेरी सलाह है ||


तुम बिन तो समझिये मेरी 

जिंदगी मुर्दो की ट्रैन है 

सब कुछ कब्रिस्तान लगा 

पकड़नी ख़ुशी की ट्रैन है ||


कभी तो इंतकाम का दिन होगा 

उसके पश्चात का मातम होगा

फिर भी उसे खुश रहने की दुआ मांगेगे 

उसको एक बार तो मेरे जाने का गम होगा ||


चमकने लगा है चेहरा फिर उसकी रहमत हुई है 

न जाने फिर कैसी ये हरकत हुई है 

पहली बार मुहब्बत हुई है 

आखिरी बार मुहब्बत हुई है 

हाँ तुम्ही से बस तुम्हे ये प्यारी मुहब्बत हुई है ||


आप जो सो गए तो ख्वाव हमारा आएगा 

एक प्यारी सी मुस्कान आपके चेहरे पर लाएगा 

खिड़की दरवाजे दिल के खोल कर सोना

बरना आप ही बताओ हमारा ख्वाव कहा से आएगा ||


चाहत तो हम भी रखते है 

किसी के दिल में धड़कते है 

न जाने वो कब मिलेंगे 

जिनके लिए हम रोज तड़पते है ||


उठती नहीं नजरे उसकी 

शर्म से जब लाल होती है 

मेरा दिल जोर से धड़कता है 

बो जब मेरे साथ होती है ||


इश्क़ मुहब्बत सब करते है 

गम और जुदाई से सब डरते है 

हम तो न इश्क़ करते है न मुहब्बत 

बस एक तुम्हारी मुस्कराहट पाने के लिए तरसते है ||


वो मेरे लिए खास है यारो 

जिनके लौट आने की कोई आस है यारो 

वो नजरो से दूर है तो क्या हुआ 

बनके दिल की धड़कन मेरे पास तो है यारो 


तेरे मेरे दरमियान कोई तो बात होगी 

तभी तो हमारी चाहत बेमिसाल होगी

हमको इश्क़ है चाय की प्याली से 

तुम्हे भी हमारे हाथ की चाय से होगी ||


कभी इसका दिल रखा 

कभी उसका दिल रखा 

इसी कशमकस में भूल गए 

खुद का दिल कहाँ रखा ||


आज फिर एक नई सुबह आई है 

साथ अपने नयी उम्मीद लायी है 

है असर तुम्हारी याद का ऐसा की 

हवाएं भी अपने साथ तुम्हारी परछाई लायी है ||


नाक से पानी आँखों से आंसू 

बिहरन की दर्द भरी कहानी 

बुझता दीपक उगते सूरज की 

सब्र भरी कहानी ||


गहरे समंदर में डूबता तेरा इश्क़ 

भबर में समाती मेरी जिंदगी की शाम

थम कर मेरा हाथ निकलते हो हर बार 

बार बार बार ||


रब्बा तेरी खुदाई हाय याद है आई 

दिल ये देता है दुहाई , गम से दे रिहाई 

हाल कैसे सुनावा, रोग कैसे निभावा 

रब्बा किस्मत में रोना क्यों लिखा ||


कोई शिकवा भी नहीं 

कोई गिला भी नहीं 

जो मिला है नसीब में उसका कोई रुसवा भी नहीं 

बस गम है इतनी सी जिंदगी से 

खुशियों का दामन हमे भी क्यों नहीं मिला ||


तुझे दिल से जुदा कभी होने नहीं देंगे 

तुझे नींद भी आये तो सोने नहीं देंगे 

तेरा प्यार हमे इतना प्यारा है 

हम मर भी गए तो तुझे रोने नहीं देंगे ||


क्या अब भी किसी को इंतजार हमारा होगा 

क्या आज भी किसी की शायरी में जिक्र हमारा होगा 

नहीं ये तो है ख्वाबो ख्यालो की बाते सब

आज मेरी जगह पर कोई ओर सितारा होगा ||


For more Love status shayri hindi CLICK HERE  


Post a Comment

0 Comments